जीवन में मुस्कुराहट का महत्व – उम्र बढ़ने से मुस्कुराहट नहीं घटती, लेकिन मुस्कुराहट घटने से उम्र जल्दी बढ़ती है,

Spread the love

Importance of smile in life – Smile does not decrease with age, but decreasing smile increases age quickly.

मनुष्य का जीवन बड़ा विचित्रा है। ज्यों ज्यों वह बड़ा होता जाता है, त्यों त्यों एक से एक नई जिम्मेदारी के बोझ तले दबता चला जाता है। इस बोझ भरे जीवन की मंजिल को पार करते हुए उसे अनेक दु:खों, कष्टों व मुसीबतों में से गुजरना पड़ता है, तनाव सहन करने पड़ते हैं व समस्याओं से जूझना पड़ता है, इन सबको सहन करते हुए वह घबरा जाता है। कोई समाज से दूर कहीं भाग जाना चाहता है तो कोई आत्महत्या करना चाहता है लेकिन समाधान यह नही।

जीवन में सकारात्मक दृष्टिकोण अपनाकर ही हम अनेक समस्याओं का समाधान ढूंढ सकते हैं। कमल का फूल प्राप्त करना है तो कांटों से गुजरना ही पड़ेगा। अगर हम इन नई नई मुसीबतों को देखकर चिन्ताग्रस्त हो जायेंगे तो गुजर रही जिन्दगी को भी नष्ट कर रहे हैं। माना कि हम इंसान हैं,किसी समस्या, दु:ख तनाव से घबराहट तो प्राकृतिक रूप से हो ही जाती है लेकिन अफसोस या आंसुओं की धाराओं को ही अपने अन्दर नहीं बसा लेना चाहिए।

अगर एक क्षण विचार किया जाए तो विधाता द्वारा बनाए गए भाग्य को बार बार कोसने से कोई फायदा नहीं। भाग्य तो नहीं बदल सकता मगर इसके साथी पुरूषार्थ की बागडोर तो ईश्वर ने हमें ही सौंप रखी है। इस पुरूषार्थ को अपना कर ही हम भाग्य को भी अपना साथी बना सकते हैं। हमारा पुरूषार्थ इसी में है कि मुस्करा कर मुसीबतों से हट कर मुकाबला करें। मुस्कुराहट का कोई नुकसान नहीं। इसमें अनेकों फायदे हैं। मुस्कुराना तो गहरी समझदारी का द्योतक है।

मुस्कुराने भर से सामने खड़े व्यक्ति का क्रोध कम हो जाता है, नाराजगी दूर हो जाती है। निरूतर रह कर भी हम कई प्रश्नों का उत्तर जरा सी मुस्कुराहट भर से दे देते हैं। जरा सा मुस्कुरा कर हम कइयों की हमदर्दी हासिल कर लेते हैं।

अगर हम यह सोचें कि हमारे जीवन में तो दु:खों के डेरे लगे हुए हैं तो फिर चेहरे पर मुस्कान आए कहां से। दु:ख, तनाव, घुटन यह तो जिन्दगी में आएंगे ही। अकेला सुख ही सुख तो जीवन में प्राप्त नहीं हो सकता। इससे पहले कि दु:ख और तनाव हम पर हाबी हो जाएं, क्यों न हम प्रसन्न रहकर, मुस्कुरा कर इन दु:खों पर विजय प्राप्त कर लें। डेल कारनेगी ने भी लिखा है कि हमारे जीवन में विचित्रा तूफान आते हैं, हिमपात होता है, बिजली गिरती है पर हम नष्ट नहीं होते मगर चिन्ता से जिसको हम अपनी अंगुलियों से मसल सकते हैं, मात खा जाते हैं।

चिन्ता को मसलने का सर्वोत्तम उपाय तो प्रसन्नचित रहना ही है। यही एक मुस्कान व खिला चेहरा ही तो पति पत्नि को करीब लाता है। घर आए मेहमान की मुस्कुरा कर ही आवभगत की जा सकती है। आपका रूखा सा चेहरा देखकर तो वह भी कई ऊट पटांग बातें सोचकर खुद को बोझ सा महसूस करेगा।

इसलिए सबका सहयोग प्राप्त करना है तो प्रसन्नचित रहना चाहिए। सारांश यह है कि हमें जीवन में नकारात्मक दृष्टिकोण के स्थान पर सकारात्मक दृष्टिकोण अपनाना चाहिए। तभी जीवन की मंजिल हंसी, खुशी, मुस्कुरा कर, आसानी से पार कर सकते हैं। आओ हम सब मिलकर प्रण करें कि जीवन में हमेशा मुस्कुराएंगे, मुस्कान प्रदान कर मुस्कान को ही पाएंगे।

उम्र बढ़ने से मुस्कुराहट नहीं घटती,
लेकिन मुस्कुराहट घटने से उम्र जल्दी बढ़ती है,

Smile doesn’t decrease with age But the loss of smile increases age quickly,

इसलिए मुस्कुराते रहें।

अगर दूसरों को खुश और बढ़ते हुए देखकर हम अपने मन में जलन, क्रोध और ईर्ष्या लाते हैं, तो इस दुनिया में हमसे गरीब कोई नहीं है।

If seeing others happy and growing, we bring jealousy, anger and jealousy in our mind, then there is no one poorer than us in this

world.

जीवन एक प्रतिध्वनि है, सब वापस आता है, अच्छा, बुरा। तो दुनिया को अच्छा देते रहो और सबसे अच्छा आपके पास वापस आता रहेगा कई गुणा होकर।

सबका मंगल हो

अगर आप एक अध्यापक हैं और जब आप मुस्कुराते हुए कक्षा में प्रवेश करेंगे तो देखिये सारे बच्चों के चेहरों पर मुस्कान छा जाएगी।

अगर आप डॉक्टर हैं और मुस्कराते हुए मरीज का इलाज करेंगे तो मरीज का आत्मविश्वास दोगुना हो जायेगा।

अगर आप एक ग्रहणी है तो मुस्कुराते हुए घर का हर काम कीजिये फिर देखना पूरे परिवार में खुशियों का माहौल बन जायेगा।

अगर आप घर के मुखिया है तो मुस्कुराते हुए शाम को घर में घुसेंगे तो देखना पूरे परिवार में खुशियों का माहौल बन जायेगा।

अगर आप एक बिजनेसमैन हैं और आप खुश होकर कंपनी पहुंचते हैं तो कर्मचारियों की टेंशन कम हो जाएगी।

अगर आप दुकानदार हैं और मुस्कुराकर अपने ग्राहक का सम्मान करेंगे तो ग्राहक खुश होकर आपकी दुकान से ही सामान लेगा।

कभी सड़क पर चलते हुए अनजान आदमी को देखकर मुस्कुराएं, देखिये उसके चेहरे पर भी मुस्कान आ जाएगी।

मुस्कुराइए क्यूंकि मुस्कराहट के पैसे नहीं लगते ये तो ख़ुशी और संपन्नता की पहचान है।

मुस्कुराइए क्यूंकि आपकी मुस्कराहट कई चेहरों पर मुस्कान लाएगी।

मुस्कुराइए क्यूंकि ये जीवन आपको दोबारा नहीं मिलेगा।

मुस्कुराइए क्योंकि क्रोध में दिया गया आशीर्वाद भी बुरा लगता है और मुस्कुराकर कहे गए बुरे शब्द भी अच्छे लगते हैं।

मुस्कुराइए क्योंकि दुनिया का हर आदमी खिले फूलों और खिले चेहरों को पसंद करता है।

मुस्कुराइए क्योंकि आपकी हंंसी किसी की ख़ुशी का कारण बन सकती है।

मुस्कुराइए क्योंकि परिवार में रिश्ते तभी तक कायम रह पाते हैं जब तक हम एक दूसरे को देख कर मुस्कुराते रहते हैं।

मुस्कुराइए क्योंकि यह मनुष्य होने की पहचान है। एक पशु कभी भी मुस्कुरा नहींं सकता। इसलिए स्वयं भी मुस्कुराएंं और दूसरों के चेहरे पर भी मुस्कुराहट लाएं.

यही जीवन है। आनंद ही जीवन है।।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

© 2021 FunToo.in - सकारात्मक मानसिकता के साथ दिन की शुरुआत करना बहुत महत्वपूर्ण है। व्हाट्सप्प और फेसबुक के लिए ग्रीटिंग्स कार्ड और दैनिक शुभकामनायें ....Get more Entertainment and Fun with Latest Update - WordPress Theme by WPEnjoy